Tuesday, November 29, 2022

Latest Posts

कच्चा बादाम फेम भुवन का दुखड़ा गाना रिकॉर्ड का नही मिलता रोकड़ा लगाया बैन

सोशल मीडिया आपने अकाउंट को जभी भी यूज किया होगा तो

एक ना एक बार तो आपको मशहूर गाना एक न एक बार कच्चा बादाम गाना जरूर देखा होगा. और इन दिनों ट्रेंडिंग वीडियो में कच्चा बादाम गाने का बहुत ही क्रेज देखने को मिल रहा है. वही आपको बतादे बंगाल के एक छोटे से कस्बे में बादाम बेचने वाले भुवन बड्याकर उस समय रातों रात मशहूर हो गए, जब उनके बादाम बेचने के अलग ही स्टाइल को किसी ने रेकॉर्ड कर सोशल मीडिया पर डाल दिया था.

भुवन का ये अनोखे अंदाज में

बादाम बेचना लोगों को पसंद आ गया और कुछ ही समय में वे सोशल मीडिया पर वायरल हो गए थे. कच्चा बादाम गाना सोशल मीडिया पर इतना ज्यादा पॉपुलर सॉन्ग बन गया कि उसको अब तक 50 मिलियन से भी ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं.और लाखों की संख्या में शेयर भी किए जा रहे हैं.

भुवन को अपने मशहूर होने का

अंदाजा उस समय हुआ जब दूर-दूर से लोग उनके कस्बे में उनसे मिलने आने लग गए. लोगों ने आकर उनके साथ फोटोज और वीडियोज बनाना शुरू कर दिया था. सोशल मीडिया से अंजान भुवन को इस बात का अंदाजा भी नहीं था कि वे इंटरनेट सेंसेशन बन चुके हैं.


आपको बतादे आजतक डॉट इन से बातचीत के

दौरान भुवन ने बताया.मैं तो इसे ऊपरवाले का आशीर्वाद मानता हूं कि उन्होंने मुझे इस लायक समझा हैं. मैं तो बस्ती में रहता हूं और यहीं से कच्चा बादाम(मूंगफली) बेचता हूं. जिंदगी थोड़ी-थोड़ी बदल रही है. अपनी निजी जिंदगी के बारे में भुवन ने बताया.मेरी उम्र 50 साल की है. मेरे दो बेटे और बहू हैं. बेटी की शादी हो चुकी है. मैं पेशे से मूंगफली (कच्चा बादाम) बेचा करता हूं. कच्चा बादाम बेचकर रोजाना 200 से 250 रुपये कमा लेता हूं. पापुलैरिटी से मेरी बीवी बहुत खुश हैं और परिवार वाले भी खुश है.

खबरों के अनुसार भुवन कच्चा बादाम के

एक म्यूजिक वीडियो में भी नजर आ चुके हैं. अपना एक्स्पीरियंस शेयर करते हुए भुवन ने बताया, “मुझे बहुत खुशी हो रही है कि हीरो बन गया हूं. गांव में आकर लोग कहने लगे कि भुवन तुम तो फेमस हो गए हो, मैंने पूछा कि कैसे रे, तो उन्होंने बताया कि वीडियो अपलोड किया है. कई लोग मुझे बांग्लादेश से मिलने आते हैं. फोटो खिंचवाते हैं. मैंने स्टूडियो में गाना गाया, वहां का पैसा नहीं मिला है. मुझसे अग्रीमेंट हुआ है.60-40 पर्सेंट का, जिसका पैसा नहीं मिला है. उन्होंने कहा है कि पैसे देंगे लेकिन अभी तक कुछ नहीं पता चला है. जो लोग आते हैं, वे रेकॉर्ड कर मुझे पांच सौ से दो तीन हजार हाथ में देकर चले जाते हैं. यू-ट्यूब वाले आकर कुछ-कुछ पैसे देकर जाते हैं.बाकि जो स्टूडियो ऑडियो और वीडियो रिकॉर्ड हुआ है उसका कोई पैसा नहीं मिल पाया है. भुवन आगे बताते हैं, मेरी पॉप्युलैरिटी को देखते हुए लोग मुझे अपने पार्टी में बुलाते हैं. सरस्वती पूजा में पंडाल हो या कोई इवेंट, मुझसे गाना गवाते हैं, यहां गाना गाने पर पैसे देते हैं.भुवन के करीबीयो ने बताया,बाहर के लोगों से मिलते हुए देख, गांव वालों ने अब भुवन से मिलने पर पाबंदी लगा दी है. गांव वालों का कहना है कि भुवन का इस्तेमाल कर लोग चले जाते हैं और उन्हें उनका हक नहीं देते हैं. ऐसे में अब कोई भी आउटसाइडर बिना गांव वालों की रजामंदी से भुवन से मुलाकात नहीं कर सकता है.

Latest Posts

Don't Miss