Sunday, November 27, 2022

Latest Posts

मौत के 8 साल बाद पुनर्जन्म ले अपनी माँ से मिलने गया बेटा, सर पर ओढनी उढाकर बोला ‘तूं इसे सर पर रखा कर पहले भी कहता था आज भी कह रहा हूँ’

अगर आपसे मैं सवाल करूं की कोई इंसान मौत के बाद वापस लौटकर आ सकता है ? शायद आप सभी का जवाब होगा नहीं अगर ऐसा होता है तो किसी चमत्कार से कम नही होगा। लेकिन ऐसा हुआ है। हरियाणा के पुटकलां गाँव में एक 3 साल के बच्चे ने जो बताया है वह हम सभी के लिए हैरान करने वाला होगा।

आज यह बच्चा करीब 19 साल का हो गया है वह अपने मुहं से बता रहा है की उसने अपनी पूर्व जन्म की माँ को क्या कहा और उसके घर में क्या था क्या नहीं। जानकर आपको हैरानी भी होगी की पूर्व जन्म में उसकी शादी भी हो चुकी थी। आइये जानते है पूरा मामला –

पूटकलां के बच्चे ने लिया दुबारा जन्म


एक हरियाणा की रिपोर्टर है नाम है उनका कुसुम गायत उनके पेज पर उन्होंने इंटरव्यू के साथ एक वीडियो शेयर किया है। इसमें अभी बच्चे की 19 साल उम्र होगी वह बच्चा दावा कर रहा है की वह पुनर्जन्म ले चूका है। वर्तमान में उसका नाम देव है उसका दावा है की वह जब 2 साल का था तब उसने अपने परिवार को सब बताया था की कैसे उसका जन्म हुआ और कैसे उसकी मृत्यु हुई।

पिछले जन्म वह पूटकलां गाँव का रहने वाला था, उसका नाम विष्णु था। लड़के ने बताया की अभी वह गोयलाकलां गाँव में रहता है। दोनों गाँव का लास्ट अक्षर एक जैसा है और इस बच्चे ने जो स्टोरी बताई वो भी बहुत शानदार है इतना ही नहीं सामने वालों ने भी यह स्वीकार किया है।

बच्चे ने अपना घर पहचान और माँ को बोली बात

बच्चे के अनुसार जब वह दो साल का था तब उसने खाना-पानी छोड़ दिया और ऐसी बातें करने लगा पूर्व जन्म के पिता का नाम ॐ बताने लगा और लगातार उससे मिलने की जिद करने लगा। घर वाले उसकी बातों को स्वीकार नहीं करते थे लेकिन जब बच्चे की बुआ ने यह सुना तो उन्होंने जिक्र किया की उनके गाँव के नजदीकी गाँव में इस तरह की घटना हुई थी।

जानकारी के अनुसार पिछले जन्म पुटकलां के ओमजी का 20 वर्षीय बेटा जब बाजार गया तो गलती से वह रेल के आगे आ गया और उसकी जान चली गई लेकिन भगवान का चमत्कार देखिए उसकी हर बात यह दो साल का बच्चा बता रहा था।

घर गया तो माँ बाप सबको पहचान लिया

बच्चे की जिद पर उस गाँव में बच्चे को लेजाया गया और महज 2 वर्ष की आयु में भी बच्चे ने अपना घर पहचान लिया और कहाँ पर ट्रक रुकता है था ट्रेक्टर रुकता था और अपनी दूकान भी बताई। इतना सब जानने के बाद उसने अपने चाचा को पहचान लिया लेकिन जब वह अपने घर गया तो वहां कोई नहीं था।

लड़के के चाचा ने बताया की वो सब अब बाज़ार में रहते है उस वक्त जब बच्चा अपनी माँ के पास गया तो वह बिना सर पर चुन्दडी लिए बैठी थी बच्चे ने उसे उठाया और सर पर रखते हुए हरियाणवी भाषा में कहा ‘इसे सर पर राख्या कर पेले भी कह्या करता हूँ भी कहूँ’ माँ यह सुनकर हैरान रह गई बच्चे को देख और उसकी बातें सुन अपना बच्चा मान बैठी लेकिन बच्चे को उसने अपनी अभी की माँ को सौंप दिया।

आज भी मिलते है बच्चे से

बच्चे के अनुसार अब वह अपने पहले घर में भी जाता है और यहाँ पर भी रहता है वह अपनी इस जिंदगी में खुश है दोनों ही परिवार मुझे बहुत प्यार करते है अभी इनके पिताजी DTC में ड्राइवर की जॉब करते है और काफी संपन्न स्थिति में है।

ऐसी ही रोचक जानकारी के लिए हमें फॉलो करें और जानकारी अच्छी लगे तो अपने दोस्तों के साथ भी इसे शेयर करें ताकि लोगों को ऐसी जानकारी हर रोज मिलती रहें।

Latest Posts

Don't Miss