Thursday, December 1, 2022

Latest Posts

पाकिस्तान की वो लड़कियां जो पराये मर्द को पसंद करते ही अपनी शादी तोड़ लेती है और कर लेती है उनसे विवाह

भारत और पाकिस्तान में कुछ चीजें काफी एक जैसी है चूँकि पाकिस्तान भारत का ही एक रूप है तो यहाँ की संस्कृति ज्यादा भिन्न नहीं है। जिस तरह से भारत के मध्यप्रदेश में अनेक तरह की जनजातियाँ रहती है ठीक वैसे ही पाकिस्तान और अफगानिस्तान के मध्य एक जनजाति रहती है इस जनजाति का नाम कलाशा जनजाति है।

यहाँ अनेक अलग-अलग संस्कृति को अपनाया जाता है और इनकी रीति-रिवाजों को पढ़कर आप अवश्य ही हैरान रह जायेंगे तो आइये जानते है कलाशा जनजाति के बारें में। आपकी जानकारी के लिए बता दूँ की पाकिस्तान में अल्पसंख्यक की श्रेणी में आती है यह जनजाति बहुत कम लोग है इस जनजाति के पाकिस्तान में –

गैर मर्द पसंद आते ही तोड़ देती है शादी


पाकिस्तान में इस जनजाति की महज 4000 संख्या है, यह हिन्दू कुश पर्वतों से घिरे क्षेत्र में रहते है। बताया जाता है की यहाँ की महिलाओं को अगर कोई गैर पुरुष पसंद आ जाता है तो वह अपनी शादी तोड़ देती है और उस व्यक्ति से शादी कर लेती है।

इनकी यही संस्कृति इन्हें औरों से अलग करती है, इनका मानना है की इन्ही पहाड़ियों की वजह से उनकी संस्कृति बची हुई है और वह यहाँ पर साल में तीन उत्सव मनाते है या हम इन्हें कह सकते है त्योंहार मनाते है।

कामश, जोशी और उछाव त्योंहार होते है स्पेशल

यहाँ पर मनाये जाने वाले कोमश त्योंहार में महिलाओं को आजादी होती है की वह अपनी पसंद के पुरुष के साथ मिले और उससे बात-चित करने इतना ही नहीं यह उत्सव काफी शानदार रूप से मनाया जाता है।

लोगों को यह उत्सव इतना पसंद है की उस समय यहाँ पर महिलाएं खूब ऐश करती है और लड़कों के साथ लडकियां घुमने को निकलती है इसके अलावा दो त्योंहार और होते है जोशी और उछाव इन त्योंहारों में लोग अपने घर को सजाती है और कुछ स्त्रियाँ अपने पति के लिए सुंदर तैयार होती है।

खुले विचारों की जनजाति है

माना जाता है की इस जनजाति में बहुत खुलापन है यहाँ पर महिलाओं को बंदी या फिर गृहणी बनाकर नहीं रखा जाता। यहाँ पर महिलाएं ही कमाई करती है यहाँ तक की वह भेड़, बकरियां चराती है और साथ में सुंदर और बहुत ही अच्छी कलाकारी करती है कपड़ों पर इत्यादि।

पुरुष उन्हें बेचकर अच्छा पैसा कमाते है यहाँ के लोगों का मानना है की हम एक ही परिवार है और पुरे समाज को एक परिवार की तरह देखा जाता है हालाँकि इनकी पाकिस्तान में अभी संख्या बहुत कम है।

ऐसी ही रोचक जानकारी के लिए हमें फॉलो करें ताकि आपको ऐसी जानकारी हर रोज मिलती रहें ऐसी रोचक जानकारी के लिए आर्टिकल को आगे शेयर जरुर करें।

Latest Posts

Don't Miss