Sunday, November 27, 2022

Latest Posts

कहीं आप भी नजले और जुकाम को एक तो नहीं समझते, जानकारी पढ़ें

सर्दियों की शुरुआत होते ही हमें सबसे पहले अगर कोई बीमारी पकड़ती है वो है जुकाम, यह होने के बाद हमें सांस लेने में भी तकलीफ आने लगती है। आपको जानकर हैरानी भी होगी की जुकाम की अभी तक कोई प्रॉपर दवा नहीं बनी है। हाँ कुछ देशी नुस्खे जरुर इसमें कारगार साबित होते है। आज हम सेहत से जुड़ी कुछ बातें यहाँ लिखने वाले है और नजला और जुकाम क्यों अलग-अलग है इसकी जानकारी देने वाले हैं।

नजला और जुकाम एक नहीं है

कुछ लोग नजले और जुकाम को एक समझते है लेकिन ऐसा नहीं है दोनों में बहुत अंतर है, नजला हमारे शरीर के किसी भी अंग में हो सकता है। वहीँ जुकाम हमें सांस लेने में तकलीफ, नाक बंद, नाक में पानी जैसी प्रॉब्लम में डालता है। नजले और जुकाम में काफी अंतर है। यहाँ हम नजले और जुकाम में कुछ अंतर बता रहे है।


नजला क्या है

नजला एक तरह की एलर्जी है जो हमारे शरीर के किसी भी अंग को जकड़ सकती है। अगर यह नाक में होती है तो हमें सांस लेने में प्रॉब्लम होती है, छींक बहुत ज्यादा आती है और यह लम्बे समय तक हमें परेशान करती है।

नजला अगर बालों में हो जाए तो बाल सफेद होने लगते है, यही अगर आँखों में हो जाए तो आँखों में लालिमा आ जाती है और आँखों की रौशनी कम कर देता है। नजला ज्यादातर नाक में होता है और यही कारण है की अक्सर नजले और जुकाम को एक समझ लिया जाता है।

नजले की पहचान

अगर जुकाम काफी समय तक बना रहे तो वह जुकाम नहीं नजले में बदल जाता है और हमारी नाक की ग्रन्थियों में प्रॉब्लम क्रिएट करता है, नलिकाओं में सुजन आ जाती है और हमें सांस लेने में तकलीफ होने लगती है।

अगर 7 दिन से ज्यादा जुकाम हमारे शरीर में रहता है तो वह नजले में बदल जाता है और उसके बाद नजले से छुटकारा पाना काफी मुश्किल हो जाता है। नजले की पहचान करनी हो तो आप ऐसे कर सकते है बिना सर्दी के मौसम में भी अगर आपको बार-बार छींक आ रही है। बार-बार नाक में पानी जैसा महसूस हो रहा है या गले में खरास आ रही है तो यह नजला होगा।

नजले से छुटकारा कैसे पायें

जहाँ नोर्मल जुकाम कुछ समय बाद ठीक हो जाता है वहीँ नजला काफी समय तक शरीर में बना रहता है। यह एक एलर्जी की तरह होता है और यह लगातार हमारे शरीर में पनपता है। ऐसे में इसका सबसे अच्छा ईलाज तो यही है की आप इस एलर्जी की जांच करवाये और किसी अच्छे डॉक्टर से परामर्श लें। अगर आप अंग्रेजी दवाओं का सेवन नहीं करना चाहते है तो किसी वैध्य के साथ बात करें। वह नजले के लक्षणों के अनुसार आपको दवा बना देगा और आपको काफी राहत भी मिलेगी।

Rakesh Satapathy
Rakesh Satapathyhttps://viralindiatoday.com
Rakesh Satapathy is a professional Full Stack Web Developer with 7 years of hardcore experience in Web Designing, Web Development, WordPress, and SEO along with SMM. Why do you wish to choose me? Well, I enjoy what I do and I get to experiment at a lot with every changing feature, WordPress options, new plugins that is being developed on a daily basis.

Latest Posts

Don't Miss