Thursday, December 1, 2022

Latest Posts

मजदूर के बेटे और खूबशूरत रूसी अफसर की अनोखी प्रेम कहानी

सच्चा प्यार अमीरी-गरीबी दर किनारा कर देता है

और सामने वाला दिखने जैसे भी हो अगर उससे प्यार हो गया तो उसका रूप निखार भी नहीं देखता. ये बात रूस से आयी एक अफसर ने गोवा के मजदुर के लड़के से शादी करके साबित करदी। गोवा में बारमैन का काम करने वाले एक मामूली खेत मजदूर के बेटे ने कभी नहीं सोचा होगा कि उसकी शादी किसी विदेशी लड़की से होगी। लड़की भी कोई मामूली नहीं बल्कि, रशियन पार्लियामेंट हाउस के इकॉनामिक्स डिपार्टमेंट की एक अफसर है। एमपी के छोटे-से कस्बे के रहने वाले एक नरेंद्र के साथ ऐसा ही हुआ। उन्होंने रूस की अनस्तस्था से मुलाकात के 3 साल बाद शादी कर ली।

नरेंद्र की मुलाकात अनस्तस्था से

करीब 3 साल पहले गोवा में हुई थी। जहां वह एक बीयर बार काउंटर पर बारमैन काम करता था। शुरुआती बातचीत टूटी-फूटी अंग्रेजी में हुई। 25 साल की रूसी लड़की भी अंग्रेजी नहीं जानती थी, लेकिन दोनों ने एक-दूसरे की भाषा आंखों से समझी, फिर दिल की।

करीब ढाई साल तक वह

नरेंद्र से मिलने के लिए भारत आती रही। इस दौरान सोशल मीडिया के जरिए उनकी बातचीत होती रही। इसके बाद उसने अनस्तस्था ने उसे मॉस्को बुला लिया। जहां उन दोनों ने अगस्त में विधिवत शादी कर ली।


यही नहीं, बुधवार को उन्होंने सागर में अपर कलेक्टर दिनेश श्रीवास्तव को अपनी शादी का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए अर्जी भी दी है।

मजदूरी करते हैं नरेंद्र के पिता नरेंद्र का जन्म एक किशान परिवार में हुआ है। उसके पिता काशीराम लोधी के पास न के बराबर जमीन है। पूरे परिवार की गुजर-बसर खेतों में मजदूरी करके होती है। परिवार में मां के अलावा एक और भाई, एक बहन है।

नरेंद्र कहते है की वह कुछ दिन पहले अपनी पत्नी अनस्तस्था को गांव ले गया था। माता-पिता से मिलवाने के बाद अब वह उसके साथ रूस में ही रहने की तैयारी में है। इसके लिए उसने वीजा के लिए अप्लाई कर दिया है।

Latest Posts

Don't Miss