Monday, January 24, 2022

Latest Posts

UPSC में दो बार नाकाम हुई गुंजन लेकिन तीसरी बार इतिहास रच दिया, पढने के बाद देश की बेटी पर गर्व जरुर होगा

- Advertisement -

गुंजन द्विवेदी उतरप्रदेश के लखनऊ की रहने वाली है, इनके पिता आईपीएस अधिकारी है और एक बहन सिविल सर्वेंट है। बचपन से ही UPSC की तैयारी इनका सपना रहा है घर में इतना अच्छा माहौल होने के कारण उन्हें तैयारी करने के लिए बहुत कुछ मिल जाता था। लेकिन गुंजन का सपना उस वक्त टूट गया जब वह 2016 में अपने आयाम को पास ना कर पाई।

गुंजन हारी नहीं लेकिन वह टूट चुकी थी और उसने अपने आप को एक बार फिर संभाला आइये जानते है इनकी जिंदगी और इनकी जिद के बारें में –

- Advertisement -

गुंजन एक नहीं दुसरे प्रयास में भी निष्फल रही

गुंजन ने अपने पहले प्रयास में कुछ ख़ास अंक प्राप्त नहीं किये लेकिन वह 12वीं के बाद लगातर UPSC की तैयारी कर रही थी ग्रेजुएशन करने के बाद भी वह लगातर इसी में लगी रही। पहले प्रयास में हारने के बाद उसने दूसरा प्रयास भी किया।

- Advertisement -

दुसरे प्रयास में प्री पास नहीं कर पाई और वह एक बार फिर अपने लक्ष्य तक नहीं जा पाई लेकिन कहते है ना की अगर हम बार-बार एक ही जगह चोट करें तो कोई ना कोई सही चोट तो लग ही जाती है।

गुंजन को 2018 में मिली सफलता

गुंजन को 2018 में सफलता मिली और आपको हैरानी होगी की देश में 9वीं रैंक पर गुंजन थी उसने वो कर दिखाया जो कोई सोच नहीं सकता था वह लगातार तीसरी बार प्रयास कर रही थी इस बार अगर वह पास नहीं होती तो टूट जाती लेकिन गुंजन का कहना है की वह अगर पास नहीं होती तो एक प्रयास जरुर करती अगर उसमे रह जाती तो कहीं पढाने का काम उसे मिल ही जाता इसलिए वह एक और प्रयास करना चाहती थी।

आखिर में सफलता मिली और आज गुंजन अपने लक्ष्य पर है, उन्होंने अन्य बच्चों को जो पढ़ते है उनके लिए एक टिप्स भी शेयर करी है।

NCRT की बुक में सब कुछ है

गुंजन ने कहा की अगर किसी को UPSC की तैयारी करनी है तो NCRT की बुक में सब कुछ है इन बुक्स को पूरी तरह पढ़ लो और अपने आप का आंकलन करो अगर कहीं पर कमी होती है तो उसे पूरा करो फिर देखना आपके जीवन में सफलता आएगी और आप किसी भी परीक्षा को पास कर पाएंगे।

अगर आपको इनकी यह बात अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरुर करें ज्यादा से ज्यादा लोगों तक इस आर्टिकल को शेयर करें।

- Advertisement -

Latest Posts

Don't Miss