Thursday, September 29, 2022

Latest Posts

चम्बल नदी में कार गिरने से दूल्हे की मौत, खुशहाल घर में छाया मातम

चम्बल नदी मे कार गिरने से बहुत ही

ज्यादा दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है जहां पर शादी का जश्न चल रहा था. मेहमानों की भी आओ भगत के इंतजाम थे. लेकिन भाग्य को कुछ और ही मंज़ूर था. लेकिन दूल्हे की कार चम्बल नदी में गिरने से मौत हो गई पल भर में ही शादी का यह उत्सव मातम में बदल गया.जहां पर ढोल नगाड़े बज रहे थे वहां सन्नाटा पसर गया. यह दर्दनाक हादसा राजस्थान के कोटा में चंबल चंबल नदी में दूल्हे की कार गिर जाने से दूल्हे सहित नौ लोगों की मौत हो गई है.

आपको बतादे राजस्थान के कोटा जिले में

चंबल नदी  पर तड़के हुए दर्दनाक हादसे में बारात लेकर जा रहे दूल्हे सहित 9 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई. यह बारात सवाई माधोपुर के चौथ के बरवाड़ा से मध्य प्रदेश के उज्जैन के लिये शनिवार रात करीब 1 बजे रवाना हुई थी. करीब दो घंटे बाद ही करीब तीन बजे वह कोटा में बेकाबू होकर नयापुरा पुलिया से चंबल नदी में जा गिरी. कार में दूल्हे अविनाश वाल्मिकी सहित कुल नौ लोग सवार थे. इनमें कार के चालक को छोड़कर सभी दूल्हे के रिश्तेदार थे. हादसा रात करीब तीन बजे होने के कारण किसी को इसकी जानकारी नहीं मिल सकी.सुबह पुलिस प्रशासन को इसकी सूचना मिली लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी.

सुबह हादसे की सूचना मिलते ही

चौथ का बरवाड़ा में दूल्हे अविनाश वाल्मिकी के घर में कोहराम मच गया. शादी की खुशियां गम में बदल गई. जिस घर में रात तक शहनाइयां और मंगल गीत गूंज रहे थे वहां उस घर मे मातम पसर गया. दिल को दहला देने वाले इस हादसे की सूचना के बाद आसपास के लोग दूल्हे के घर तो पहुंच गये, लेकिन किसी की हिम्मत नहीं हुई कि वह उनके पास जाकर ढांढस बंधा सके. दहाड़े मारकर रो रहे परिजनों का दर्द सुनकर लोगों का दिल सहम गया. अविनाश की शादी रविवार को दोपहर में 3 बजे नेहा उर्फ गौरी से होनी थी.


खबरों के अनुसार चौथ का बरवाड़ा निवासी

किशन गोपाल के दो बेटे थे. बड़ा बेटा केशव हरिजन था. उसकी शादी नहीं हुई थी. जबकि छोटे बेटे अविनाश की शादी के तीन दिन कार्यक्रम करने के बाद रविवार को बारात उज्जैन के लिये रवाना हुई थी. दूल्हे के ताऊ विष्णु हरिजन भी बारात में जाने के लिए तैयार थे.

दूल्हे की कार जगह नहीं होने की कारण से

अविनाश के पिता किशन गोपाल ने विष्णु से कहा कि आप बस में आ जाना. लेकिन बाद मे वह बारात में नहीं जा पाये. उन्हें अपने भतीजे की बारात में नहीं जा पाने का दुख था, लेकिन जैसे ही सुबह उन्हें एक्सीडेंट की सूचना मिली तो वह हैरान रह गये. सूचना सुनने के बाद वह गहरे सदमे हैं. हादसे में दुल्हे अविनाश, दूल्हे का भाई केशव, दूल्हे का बहनोई शुभम हरिजन, कुशाल, राहुल, रोहित, विकास, मुकेश और कार चालक इस्लाम तेली की मौके पर ही मौत हो गई. पुलिस ने सभी मृतकों के शवों का पोस्टमार्टम कराकर उन्हें परिजनों को सौंप दिया है.परिवार गहरे सदमे मे है.हादसे में किशन गोपाल के दोनों बेटों की मौत हो गई. किशन गोपाल के दो बेटों के अलावा एक बेटी है. दूल्हे की बहन नेहा की शादी 15 नवंबर 2021 शुभम के साथ हुई थी. शुभम जयपुर का रहने वाला था. ये दोनों पति पत्नी जयपुर से यहां दोनों शादी में शरीक होने आए थे. बारात में नेहा भी थी लेकिन बस में सवार होने के कारण उसकी जान बच गई.

Latest Posts

Don't Miss