Sunday, November 27, 2022

Latest Posts

कभी एक दुसरे पर जान लुटाने वाली प्रेमिका ने ही ली प्रेमी की जान, पेट्रोल डालकर लगा दी आग

हरियाणा के फरीदाबाद में कुछ दिन पहले एक अधजली लाश मिली थी, पुलिस को पहले यह नहीं पता चला की शव किसका है लेकिन बाद में शव की पहचान पवन कुमार के नाम से हुई। जानकारी मिली की वह वल्लभगढ़ का रहने वाला था।

बाद में पुलिस ने जानकारी जुटाना शुरू किया और सामने जो मामला आया उसे जानकर हैरानी होगी। जिससे वह प्यार करता था उसी महिला ने उसको आग लगा दी और उसे जलाकर सुनसान जगह छोड़ दिया आइये जानते है पूरा मामला क्या है –

प्रेमिका करती थी बेहद प्यार लेकिन एक गलती प्रेमी की पड़ी भारी


प्रेमिका की जानकारी मिलते ही पुलिस ने प्रेमिका से पूछताछ शुरू करी गई तो प्रेमिका ने बताया की वह फरीदाबाद की एक कंपनी में काम करती है उसका पति काफी पहले गुजर चूका है उसके बाद वह पवन के साथ रिलेशन में थी।

लेकिन पवन उसकी 13 साल की लड़की पर गलत नजरे डाल रहा था और यह उसे रास नहीं आया। महिला ने बताया की अपनी बेटी पर ऐसी निगाह देखकर मुझसे रहा नहीं गया और मैंने प्लान बनाया और पवन की जान ले ली।

पवन को प्लान के साथ जलाया

महिला ने बताया की मैंने उसे पहले घर बुलाया उसके बाद उसे नींद की गोलियां देदी और उसके बड़ा उसे सुनसान जगह पर लेजाकर आग लगा दी। पेट्रोल डालकर उसको जला दिया और उसे लगा की उसे कोई पकड़ नहीं पायेगा चूँकि लाश का पता लगाना काफी मुश्किल था।

लेकिन पुलिस ने अपनी जांच सही तरीके से करी तो पवन को मारने वाले का पता चल गया। वैसे पवन महिला से प्रेम करता था और काफी समय से उसके साथ था लेकिन उसकी नियत खराब होने लगी तो अपनी बेटी के लिए प्रेमी की जान ले ली।

पुलिस ने बताया यह सब

पुलिस के अनुसार महिला ने अपनी बेटी को बचाने के लिए प्रेमी की जान लेली थी और उसका उसे गिल्ट नहीं है लेकिन अब वह सोच रही है की उसकी बेटी का क्या होगा क्योंकि उसके अलावा बेटी का ध्यान रखने वाला इस दुनिया में कोई और नहीं है।

महिला ने बताया की वह पवन से प्रेम करती थी और उसमे अपनी बेटी का पिता खोज रही थी लेकिन ऐसे पिता को जिंदा रहने का कोई हक नहीं है। अगर ऐसी घटना किसी के साथ होती है तो कोई भी महिला ऐसा कदम उठाएगी।

आस-पास की ऐसी खबरों के लिए हमें फॉलो करें अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगती है तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें।

Latest Posts

Don't Miss