Tuesday, November 29, 2022

Latest Posts

PUBG खेलते हुए भतीजा हुआ बहशी चाची और उसके छोटे बच्चे के साथ किया यह कारनामा, पुलिस ने भतीजे को लिया हिरासत में

आज लगभग सभी बच्चे मोबाइल पर किसी ना किसी गेम को खेलते है लेकिन गेम इतना खतरनाक हो सकता है यह हम कभी सोच नहीं सकते है। मिर्जापुर में चार सितंबर को एक ऐसी ही घटना घटी इसके बाद यहाँ के लोग अपने बच्चों को मोबाइल ही हाथ में नहीं लेने देते है आइये जानते है ऐसी क्या घटना घटी की एक बच्चे ने अपनी चाची और दो भाइयों के साथ इतना गलत किया। पूरी खबर पढ़ें ताकि आपको इस घटना से जुड़ी सभी जानकारी मिल पाए –

4 सितंबर को अचानक एक परिवार पर हमला होता है

चार सितंबर को एक घर में अचानक घर की महिला अंजली और उसके दो बेटे शोर्य और विराट केसरी पर हमला होता है। हमला लोह की छड से होता है और सभी बेहोश हो जाते है। मामला पुलिस तक पहुँचता है और आरोपी गिरफ्तार हो जाता है।


अब इस केस में आरोपी की उम्र महज 15 वर्ष है और उस बच्चे ने बताया की वह PUBG गेम इंडिया वर्जन खेल रहा था खेलते दिमाग ऐसा हुआ की आस-पास की चीजों को तोड़ने लगा और जैसे ही चाची अंदर आई तो मैंने उनपर वार कर दिया।

चाची के बाद दो भाइयों पर भी हमला

आरोपी बच्चे का नाम सार्थक केसरी है और वह पीडिता का भतीजा है उनके साथ ही रहता है और अचानक गेम खेलते हुए दिमागी संतुलन खो देता है और अपने दो भाइयों पर जो छत पर थे उनपर हमला कर देता है।

पुलिस ने बताया की बच्चे को बाल कार गृह में रखा गया है जिसे सुधार गृह भी कहा जाता है लेकिन ऐसा अनेक लोगों के साथ हो रहा है यह ऑनलाइन गेम लोगों की जान लेने पर उतारू है और बच्चे इनके शिकार बनते जा रहे है।

आज नहीं संभले तो फिर देर हो जायेगी

पुलिस ने कहा की ऐसा मामला बढ़ता ही जा रहा है बच्चे ऑनलाइन अपने बैंक अकाउंट पर तो चुना लगा रहे थे लेकिन अब लोगों की जान लेने को उतारू हो गये है ऐसे ऑनलाइन गेम्स बंद कर देने चाहिए ताकि किसी भी देश में इस तरह की घटना ना हो।

पुलिस के अनुसार ऐसी जानकारियों कोई ज्यादा से ज्यादा शेयर करनी चाहिए ताकि लोगों को सही जानकारी मिल पाए। अगर आप फेसबुक पर यह न्यूज़ पढ़ रहे है तो अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर जरुर करें।

Latest Posts

Don't Miss